नजरों से नजर मिली और आपने कहा…

“ याद है हम पहले कहां मिले थे ! 
ट्रेन रुकी, खिड़की खुली…
नजरों से नजर मिली और आपने कहा…

अल्लाह के नाम पे कुछ दे दे रे बाबा ! ”
😝😝😝😝😝😝😝😝😝😝
 whatsapp

Treading

#Chutkule

Padoshan Chutkula पड़ोसन - आपकी नई बहू कैसी है ? सास - बहुत मेहनत करती है, इतनी गर्मी में भी दिन-रात लगी रहती है, कैंडी क्रश के 452 लेवल पर पहुंच गई है। व्हाट्सएप पर 25 ग्रुप चलाती है, फेसबुक पर 5 हजार फ्रेंड और 10 हजार फॉलोवर हैं। 16 ग्रुप की एडमिन है और 36 पेज चला रही है। सोच रही हूं सुबह दूध के साथ बादाम देना शरू कर दूं और तरक्की करेगी।

More Posts